भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

अंग स्तवन / राजकुमार

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

जय-जय अंग अंगिका माता
नील वरण अंगिका पताका

सुरुज सदा जेकरोॅ अभियानी
तंत्रपीठ मंदार मथानी
कनक कवच-कुण्डल के दाता
जय-जय अंग अंगिका माता

विक्रमशिला सिद्ध के वाणी
भागिरथी कोसी के पानी
अंग चरित बिहुला के गाथा
जय-जय अंग अंगिका माता

मधुसूदन के बरलोॅ बाती
सत्य-अहिंसा एकरोॅ थाती
लहर-लहर युग-युग के त्राता
जय-जय अंग अंगिका माता

अंग भारती के अधिनायक
हे अनन्य जन गण उन्नायक
चरण धूलि पर नबलोॅ माथा
जय-जय अंग अंगिका माता