भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

आग-1 / श्याम बिहारी श्यामल

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

पानी में
पर्वत में
चट्टान की छाती में

बादल में
हवा में
मौसम की मधुरिम पाती में

वह कौन है छुपा
बेंग बना
साँस दबाए
क्यों डरा-सहमा
इस तरह भयभीत ?