भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
  काव्य मोती
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

ईद - 2 / हरकीरत हकीर

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

जब मुहब्बत का
चाँद चढ़ा
कई सारी नज्में
कागचों पर उतर आईं
उसके ख्यालों की भी
और मेरे ख्यालों की भी
ईद हो गई …।