भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

उसूलों का धंधा / राजेश श्रीवास्तव

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

मेरा यह कहना
कोई अर्थ नहीं रखता
कि मैं
किससे, कितना प्यार करता हूँ
सार्थकता इस बात में है
कौन, कितना इस प्यार को
उसी रूप में लेता है
जिस रूप में मैं देना चाहता हूँ।