भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
  काव्य मोती
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

कौड़ीवाला कौड़ी वाला / पँवारी

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

पँवारी लोकगीत   ♦   रचनाकार: अज्ञात

कौड़ीवाला कौड़ी वाला
उतर्या बड़ की छाय लला
रूप कारा बईल परऽ समदिन बठी
हाथ मऽ लम्बो दोर लला
कौड़ी वाला नऽ ले भागी
उ समदी ठोकय पेट लला
कौड़ी वाला कौड़ी वाला
उतर्या बड़ की छाय लला