भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

जगन्नाथप्रसाद 'मिलिंद' / परिचय

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

जगन्नाथप्रसाद 'मिलिंद का जन्म मुरार, ग्वालियर में हुआ। उच्च शिक्षा काशी में हुई।
ये हिंदी, उर्दू, बंगला, मराठी, गुजराती, संस्कृत और अंग्रेजी के ज्ञाता थे।
इन्होंने शांति निकेतन तथा महिला आश्रम, वर्धा में अध्यापन किया एवं स्वतंत्रता आंदोलन तथा राजनीति में भाग लिया।
'मिलिंद के 6 नाटक (मुख्य 'प्रताप प्रतिज्ञा), 2 खंड-काव्य, अनेक समीक्षा ग्रंथ तथा 8 काव्य-संग्रह प्रकाशित हैं, जिनमें 'अंतिमा, 'पूर्णा, 'बलिपथ के गीत, 'नवयुग के गान' और 'मुक्ति के स्वर' मुख्य हैं। इन्हें 'साहित्य-वाचस्पति तथा 'भारत-भाषा-भूषण की उपाधि और अनेक साहित्य संस्थानों में सम्मान प्राप्त हुआ।