भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
  काव्य मोती
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

जल भरन जानकी आई तीं (कुआँ-पूजन) / बुन्देली

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

   ♦   रचनाकार: अज्ञात

जल भरन जानकी आई हतीं
आई हतीं मन भाई हतीं ।
कौन की बेटी कौन की बहुरिया
कौन की नारि कहाई हतीं ।
जल भरन जानकी आई हतीं
आई हतीं मन भाई हतीं ।
जनक की बेटी दसरथ की बहुरिया
राम की नारि कहाई हतीं ।
जल भरन जानकी आई हतीं
आई हतीं मन भाई हतीं ।

भावार्थ

जल भरने के लिए जानकी जी आई थीं
वे सबके मन को भा गई थीं ।
वह किनकी बेटी, किनकी बहू
और किनकी पत्नी थीं ?
वे राजा जनक की पुत्री, राजा दशरथ की बहू
और श्रीराम की पत्नी थीं ।