भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

पटरी पर पलने वाला राजकुमार / संजीब कुमार बैश्य / अनिल जनविजय

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

मैंने देखा
दो वर्षीय बच्चे को
नंगा लेटे हुए सड़क के किनारे

उसके मज़दूर माता-पिता
अभी उसे
उठा लेंगे गोद में

पटरियों पर पलने वाला
राजकुमार है वो।

अँग्रेज़ी से अनुवाद : अनिल जनविजय

लीजिए, अब अँग्रेज़ी में मूल कविता पढ़िए
     Prince of the Pavement

I see a two-year-old
Lying without clothes.
His parents labor
To raise him
A prince of the pavement.

–Sanjib Kumar Baishya