भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
  काव्य मोती
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

पार्वती के पुत्र गजानन पलना झूल रहे / बुन्देली

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

   ♦   रचनाकार: अज्ञात

पार्वती के पुत्र गजानन पलना झूल रहे।
कौन महीना तेरो जनम भयो हैं,
कौने नाम धरायो। गजानन...
पार्वती के पुत्र गजानन पलना झूले रहे।
भर भादों में जनम भयो गणपति नाम धराओ।
गजानन...
को जो झूले को जो झुलावें
को जो बलैया लेय। गजानन...
गणपति झूले गौरा झुलावें
शम्भु बलैयां लेय। गजानन...
पार्वती के पुत्र गजानन पलना झूल रहे।