भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

प्रेम-3 / सुशीला पुरी

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

प्रेम
पर्वतों के बीच स्थित
झील है मौन की

जहाँ
पानियों से ज़्यादा
आँसुओं का अनुपात है

जहाँ
स्थिर जल में
भागती मछलियाँ हैं

जहाँ
एकान्त में गोताखोर
खोजते रहते हैं

एक अंजुरी हँसी
और आँख भर आकाश...!