भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
  काव्य मोती
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

बिछिया पेरिया आपका / मालवी

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

   ♦   रचनाकार: अज्ञात

बिछिया पेरिया आपका
अपणा सुहाग का
आनड़िया रा बाप का
अलबेली जच्चा मान करो
मान करो, गुमान करो
री जच्चा मान करो
तोड़ा पेरिया आपका
अपणा सुहाग का
कीकाजी रा बाप का
अलबेली जच्चा मान करो