भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

हदीस / मुंशी रहमान खान

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हदीस कुरान का सार है हृदय मध्‍य मथ लेव।
खुदा रसूल के हुक्‍म दोउ इनमें नहिं कछु भेव।।
इनमें नहिं कछु भेव चलैं मुस्लिम सुख पावैं।
मेटें हुक्‍म रसूल खुदा के सोइ काफिर कहलावैं।।
करैं रहमान अर्ज यह रब से दे इमान नफीस।
करैं बंदगी तोर सब मानहिं कुरान हदीस।।