भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

"प्रयोगशाला" के अवतरणों में अंतर

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
पंक्ति 4: पंक्ति 4:
 
-------------
 
-------------
  
{{#live: रचनाकारों_की_सूची:_भाग_1#च }}
+
{{#live: [[रचनाकारों_की_सूची:_भाग_1#च]] }}
  
 
{{#live: {{KKVarnamala Sidebar}} }}
 
{{#live: {{KKVarnamala Sidebar}} }}

21:35, 6 सितम्बर 2011 का अवतरण

प्रयोगो के लिये स्थान! आप इस पन्ने पर कोई भी प्रयोग कर सकते हैं। गलतियाँ होने का कोई डर नहीं। बस कोशिश कीजिये कि आप किसी दूसरे सदस्य के द्वारा लिखी गयी सामग्री को ना मिटायें।


{{#live: रचनाकारों_की_सूची:_भाग_1#च }}

{{#live:

क्ष त्र ज्ञ श्र
}}

{{#NAVCONTENT: Reveal Me|तुलसीदास}}

{{#NAVCONTENT: Answer|Answer to exercise 1.1|Solution|Solution to exercise 1.1}}

रचनाएँ
कनक-रतनमय पालनो रच्यो मनहुँ मार-सुतहार / तुलसीदास
पालने रघुपति झुलावै / तुलसीदास
सुभग सेज सोभित कौसिल्या रुचिर राम-सिसु गोद लिये / तुलसीदास