भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

मगही लोकगीत

Kavita Kosh से
Lalit Kumar (चर्चा | योगदान) द्वारा परिवर्तित 23:07, 28 जुलाई 2016 का अवतरण

(अंतर) ← पुराना अवतरण | वर्तमान अवतरण (अंतर) | नया अवतरण → (अंतर)
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

सोहर

जन्मोत्सव सम्बन्धी

नहवावन

मुण्डन

जनेऊ

घिउढारी

सगुन

तिलक

लगन

चुमावन

संझा

देवता

उबटन

कलसा

घिउढारी

पैरपूजी

इमली घोटाई

शिव विवाह

राम विवाह

बेटा विवाह

बन्ना

सहाना

नहछू

खार-खूर छोड़ाई

बेटी विवाह

जोग मँगाई

जोग

परिछन

गुरहत्थी

जेवनार

कठउती पर के गीत

वैवाहिक झूमर

बेटी-बिदाई

समदन

बेटा-पतोह-परिछन

नहबाबन

गौना

दोंगा

मुस्लिम-संस्कार

विवाह

माँझा

मेहँदी

सेहरा

परिछन

जोग

सोहाग

कोहबर

बेटी बिदाई

मृत्यु गीत

अन्य गीत