भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

सेन्दुर सम्भाल के उथईहा ए सुन्दर बर / भोजपुरी

Kavita Kosh से
Vandana deshpande (चर्चा | योगदान) द्वारा परिवर्तित 16:53, 26 अक्टूबर 2010 का अवतरण (नया पृष्ठ: सेन्दुर सम्भाल के उथ ईहा ए सुन्दर बर सेन्दुर सम्भाल के उथईहा ए सु…)

(अंतर) ← पुराना अवतरण | वर्तमान अवतरण (अंतर) | नया अवतरण → (अंतर)
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

सेन्दुर सम्भाल के उथ ईहा ए सुन्दर बर

सेन्दुर सम्भाल के उथईहा ए सुन्दर बर ।

माता पिता कन्यादान तोह्के कैले हो

आंखी के पुतरी बनैहा ए सुन्दर बर ।

मात पिता अपनी प्यारी बिटिउआ के

आंखी के पुतरी बनैहा ए सुन्दर बर ।