भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

जिनके जज़्बे में जान होती है / डी. एम. मिश्र

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

जिनके जज़्बे में जान होती है
हौसलों में उड़ान होती है।

जो ज़माने के काम आती है
शख़्सियत वो महान होती है।

सबको क़़ु़दरत ने बोलियाँ दी हैं
आदमी के ज़़ुबान होती है।

ये परिन्दे भी जाग जाते हैं
भोर की जब अज़ान होती है।

सब किताबें हैं बाद में, पहले
भूख की दास्तान होती है।

हम मुसाफिर हैं रुक नहीं सकते
पाँव में बस थकान होती है।