भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
  रंगोली
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार
Roman

अजी पहली मुलाक़ात में / राजा मेंहदी अली खान

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

अजी पहली मुलाक़ात में नहीं प्यार जताया करते
जब हाथ दिया है हाथों में नहीं हाथ छुड़ाया करते
अजी पहली मुलाक़ात...

और हसीन हो जाओगी गर पहनोगी प्यार के गहने
ओ प्यार के गहने पहन कर दिल में रहोगी रहने
मेरी पहली प्रेम की बेला माँगे तेरे दिल में जगह
कितने हसीन आँखों ने देखे दिल न किसी से बहला

इक लड़की का इक लड़के से इश्क़ है पहला-पहला
ज़रा जादूगरनी अपनी प्यारी-प्यारी आँखें न छुपा
पिछले जन्म में शायद मैने प्यार किया था तुमसे
पिया-पिया ओ क्या जिया तेरी बातों पे फ़िदा