भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

अन्ततः / ऑस्कर वाइल्ड / कुमार अम्बुज

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

अन्ततः आदमी उसे मार ही डालता है जिसे वह प्यार करता है
कुछ तीख़ी निगाह से मार देते हैं
कुछ चापलूसी के शब्दों से
कायर इस काम को चुम्बन लेकर करते हैं
और बहादुर आदमी तलवार से

कुछ अपनी जवानी में ही अपने प्यार की हत्या कर देते हैं
और कुछ लोग अपने बुढ़ापे तक आते-आते
कुछ अपनी हवस के हाथों गला घोंट देते हैं
कुछ अपनी सम्पन्नता के हाथों से
सबसे दयालु लोग चाकू का इस्तेमाल करते हैं
क्योंकि इससे आदमी जल्दी ही मर जाता है

कुछ लोग थोड़ी देर तक प्या‍र करते हैं, कुछ ज़्यादा अर्से तक
कुछ बेच देते हैं, और दूसरे ख़रीद लेते हैं
कुछ लोग आँसू बहाकर यह काम करते हैं
और कुछ बिना एक भी आह भरे
आख़िर हर आदमी उसे मार देता है जिसे प्यार करता है
हालॉंकि हर आदमी इससे मर नहीं जाता है।
मूल अँग्रेज़ी से अनुवाद — कुमार अम्बुज