भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार
Roman

अप्प दीपो भवः / एन. मनोहर प्रसाद

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

बुद्ध ने आनन्द से कहा
'अप्प दीपो भव'—
आओ हम दलित सब
स्वयं अपने लिए बनें मार्गदर्शक।

(रमणिका गुप्ता द्वारा अँग्रेज़ी से अनूदित)