भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

अहिंसा परम धरम कहलाया / हरियाणवी

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

अहिंसा परम धरम कहलाया।
तय तियाग का मारग दिखलाया।।
सादा जीवन उच्च विचार।
बेड़ा इस तै होवै पार।।
गांधी बाब्बू का योह् नारा।
देस नै लाग्या था अति पियारा।।