भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

आदमी / चन्द्र प्रकाश श्रीवास्तव

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

मनुष्यत्व की खोज में
उसने समूचे ब्रह्माण्ड की परिक्रमा की
पाताल से आकाश तक की दूरियाँ नापीं

जब वह लौटा
उसके साथ
देवता ही देवता
राक्षस ही राक्षस थे

आदमी
एक भी न था