भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

इतिहास / कुमार मुकुल

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

नंगे होते हो
तो ढंपते हो
इतिहास के पृष्‍ठों में

कि इतिहास नंगा है

मार-काट लूट-पाट
नया नहीं

इतिहास में ही
सारा फसाद-दंगा है।