भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

एक कोई तीर अब ऐसा लगाना चाहिए / शिवशंकर मिश्र

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

एक कोई तीर अब ऐसा लगाना चाहिए
जो लगे दिल पर कोई ऐसा निशाना चाहिए
अब नहीं जंगल, नहीं अब बाघ-चीते ही मगर
आदमी को आदमी से अब बचाना चाहिए