भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
  काव्य मोती
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

कोई तो कारण था / राजी सेठ

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

कोई तो कारण था
बंध जाने दिया था
अपने को
तुम्हारी मुट्ठियों में

कोई तो कारण है
खुल गई हूं
नीले आकाश
विपुल अथाह के बीच
पूरी
पूरी तरह निर्द्वन्द्व!