भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

कोण ज खेलै मां गींड खुली / हरियाणवी

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

कोण ज खेलै मां गींड खुली कोण जै मारैगा टोर
मैं बणजारी ओ राम की
(यहां किसी का नाम लिया जा सकता है) खेलै मां गींड खुली
(किसी अन्य व्यक्ति का नाम लिया जा सकता है) मारैगा टोर
मैं बणजारी ओ राम की