भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
  काव्य मोती
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

गॉडफादर / असंगघोष

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

सम्मान शिखर में निहित था
मैं जड़ों में खोजता रहा
शिखर तक पहुँचने का रास्ता
जो छद्मरूप से विद्यमान था
चक्रव्यूह की तरह, परन्तु
मैं द्रोण प्रदर्शित
अर्जुन नहीं था।