भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

गौं कु विकास / धनेश कोठारी

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हे जी!

इन बोदिन बल कि

गौं का

विकास का बिगर

देश अर समाज कु

बिकास संभव नि च

हांऽ भग्यानि!

तब्बि त

अब पंचैत राज मा

गौं- खौंळौं मा

बौनसाई नेतौं कि

पौध रोपेणिं च