भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

चिड़ियाँ और कविताएँ-1 / कुमार विकल

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

तुम्हारी कविता में सिर्फ़ एक बुलबुल है

मेरी कविता के आँगन में कई पेड़ हैं

जिनमें सैंकड़ों चिड़ियाँ

दूर—दराज से आकर

अपने घौंसले बनाती हैं

चोंच—दर—चोंच

अनुभव का चोगा

मेरी कविताओं को खिलाती हैं.