भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

छोड़ मुझे, वापिस कर दे मुझे / ओसिप मंदेलश्ताम

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

छोड़ मुझे
वापिस कर दे मुझे, वरोनिझ[1]

तू मुझे गिरा देगा
या खो देगा
या मुझे कोई चुरा लेगा

या अन्तत:
तू मुझे लौटा ही देगा
वरोनिझ, तू कौन है
एक भ्रम है
वरोनिझ, तू नोझ[2] है
वरोन[3] है

रचनाकाल : अप्रैल 1935

शब्दार्थ
  1. रूस का एक नगर जहाँ कवि को 1934 में उसक कविताओं के कारण सरकार ने तीन वर्षों के लिए निर्वासित कर दिया था !
  2. चाकू (रूसी भाषा का शब्द है)
  3. कौआ (रूसी भाषा का शब्द है)