भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

जाति / मनोहर बाथम

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

सत्रह तारीख़ को
इसी बगीचे में
फिरंगियों की गोलियों से
गणेश और सलीम
एक साथ शहीद हुए

तब उनकी जाति
शहीदों की थी
उनका धर्म आज़ादी था

मरने पर हमने बनाई
एक समाधि
और एक क़ब्र

और शहीदों को तब्दील कर दिया
हिन्दू और मुसलमान में