भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

दर्द सीने में छुपाए रक्खा / मदन मोहन दानिश

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

दर्द सीने में छुपाए रक्खा ।
हमने माहौल बनाए रक्खा ।

मौत आई थी कई दिन पहले,
उसको बातों में लगाए रक्खा ।

दश्त में आई बला टलने तक
शोर चिड़ियों ने मचाए रक्खा ।

वरना तारों को शिकायत होती,
हमने हर ज़ख़्म छुपाए रक्खा ।

काम दुश्वार था फिर भी दानिश,
ख़ुद को आसान बनाए रक्खा ।