भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

दिल्ली - एक / अर्पण कुमार

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

पिक्चर-पोस्टकार्ड पर
रोशनी से जगमगाते
शहर के
कुछ अँधेरे हिस्से भी होते हैं

हो सके अगर तो
उजाले से निकल बाहर
कभी उधर भी जाकर
आओ ज़रा ।