भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

दिल पे हिन्दुस्तान लिखना / श्याम सखा ’श्याम’

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

फूल लिखना कि पान लिखना
गेहूँ लिखना कि धान लिखना
कागद पे चाहे जो भी लिखना
दिल पे मगर हिन्दुस्तान लिखना

             वेद लिखना कि पुरान लिखना
             सबद लिखना कि कुरान लिखना
             कागद पे चाहे जो भी लिखना
             दिल पे मगर हिन्दुस्तान लिखना

सुबह लिखना कि शाम लिखना
रहीम लिखना राम लिखना
कागद पे चाहे जो भी लिखना
दिल पे मगर हिन्दुस्तान लिखना

           मजूर लिखना कि किसान लिखना
             बच्चे-बूढ़े या तुम जवान लिखना
             कागद पे चाहे जो भी लिखना
             दिल पे मगर हिन्दुस्तान लिखना
             
गीत गज़ल का उनवान लिखना
तमिल उड़िया जुबान लिखना
कागद पे चाहे जो भी लिखना
दिल पे मगर हिन्दुस्तान लिखना