भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

पढ़ता हुआ बच्चा (दो) / अक्षय उपाध्याय

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

गिटार बजाती माँ का मन भी
गिटार जैसा ही बजता है ?

क़िताबों से घिरा बच्चा सोचता है ।

क़िताबों से गिटार बड़ा है
माँ के कानों में हर बार कहने से पहले
बच्चा खिलखिलाता है
और संगीत की दुनिया में लपक जाता है

बच्चा कॉपी पर पहला अक्षर
क नहीं
ग लिखता है ।