भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
  काव्य मोती
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

पाँच बोट की चिमटी नऽ / पँवारी

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

पँवारी लोकगीत   ♦   रचनाकार: अज्ञात

पाँच बोट की चिमटी नऽ
काशी की हिकमती नऽ
दरना दरत पस्या की लगय धारी
पाज्यो काशी नऽ दूध भारी।।