भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

प्यार / कमला दास

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

तुम्हें पाने तक
मैंनें कविताएँ लिखीं, तस्वीरें बनाईं,
और, दोस्तों के साथ गई बाहर
सैर के लिए....

और अब
मैं तुम्हें प्यार करती हूँ
एक बूढ़े पालतू कुत्ते की मानिन्द लिपटी
मेरा जीवन बसा है,
तुम में...