भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

प्यास / अब्बास कियारोस्तमी

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

आप
शायद
विश्वास नहीं करेंगे

लेकिन सच यही है कि
मैं अपनी प्यास
बुझाता हूँ

मृग-मरीचिका से
पीकर पानी

रूसी से अनुवाद : अनिल जनविजय