भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

प्रेम का संकेत / सुभाष काक

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

मेरा तुम्हारे लिए अनुराग
एक वस्तु की इच्छा नहीं
एक छाया को देखने की अभिलाषा है
जो शरीर और आत्मा
के बीच है।

रहस्य का उद्‌घाटन है यह
क्योंकि इसके अंत में
न मैं मैं हूँ
न तुम तुम हो।

जहाँ पहुँचकर यदि तुम द्वार
खटकाओ
मैं न सुन पाऊँगा।