भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

प्रेम / बद्रीप्रसाद बढू

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


 कोरा मायाँ कपटी मनको चाहना प्रेम हैन
गन्धे गन्धे तरुण वयको वासना प्रेम हैन
वर्षौं वर्षौं अमिट रहने प्रेम यौटा कथा हो
पीडा थप्ने मृदुल मुटुमा प्रेम यौटा व्यथा हो//