भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

फिर भी / शुभा

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

एक लम्बी दूरी
एक आधा काम
एक भ्रूण
ये सभी जगाते हैं कल्पना
कल्पना से
दूरी कम नहीं होती
काम पूरा नहीं होता

फिर भी
दिखाई पड़ती है हंसती हुई
एक बच्ची रास्ते पर