भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

फिर से लौटेंगे भेड़िए / रवि कुमार

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

फिर से लौटेंगे भेड़िए

अंधेरा ही उनकी ताक़त है
और छंटा नहीं है अभी अंधेरा
वे लौटते रहेंगे रौशनी होने तक

हर बार और उतावले
और खूंखार होकर

उनका और खूंखार होते जाना ही
उनकी कमजोरी का परिचायक होगा