भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

भूख से बेहाल प्यासा हर प्रदेश / विनोद तिवारी

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

KKCatGhazal


भूख से बेहाल प्यासा हर प्रदेश
फिर भी जीवित आस्था है हर प्रदेश

गाँव में साहित्य के कुछ शोध-छात्र
ढूँढते हैं गीत के भग्नावशेष

आँकड़े ही आँकड़े हर क्षेत्र में
जन्म-दर हो या कि हो पूंजी-निवेश

वो वही दफ़्तर है जन-कल्याण का
द्वार पर जिसके लिखा ‘वर्जित प्रवेश’