भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

मच्छरदानी / बालस्वरूप राही

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

पापा लाए मच्छरदानी,
हुई मच्छरों को हैरानी।
मैं मच्छरदानी के अंदर,
भिन्न-भिन्न करते मच्छर बाहर।