भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

महायुद्ध / नील कमल

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

एक विराट सपना
असंख्य कोशों पर सवार
धमनियों में दौड़ता है
पलकें बहुत भारी हो जाती हैं

करोड़ों जीवित तूफ़ानों की नकेल
बरौनियों से जोड़ दी जाती है
शुरू होता हैं नींद और सपनों का
महायुद्ध ।