भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

माय में एकली जासेवो / कोरकू

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

   ♦   रचनाकार: अज्ञात

माय में एकली जासेवो
माय में एकली जासेवो
तू काहे को एकली रे बेटा
तू काहे को एकली रे बेटा
उजला कपड़ा साथ चलिया
उजला कपड़ा साथ चलिया
आमा हांडी साथ चलियो
आमा हांडी साथ चलियो
घर का पूसो रे साथ चलियो
घर का पूसो रे साथ चलियो

स्रोत व्यक्ति - सीताराम बैठ, ग्राम - टेमलावाड़ी