भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए

Changes

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
पावन-भूमि विदेहक भारी
तलसं तें क्षीरॊदक्षीरोद-कुमारी
लेलनि जन्म स्वयं यज्ञस्थल
व्याज बना मिथिलेशक हर
ज्ञानक तत्व जनक संऽ लै छथि
कर्म योगि जनकक गीतामे
उपमा दै छथि दामॊदरदामोदर
मिथिला सन इतिहास ककर?
गार्गी ब्रह्मक व्या‌‌ख्या पर
मिथिला सन इतिहास ककर?
 
महातपश्वी नरपति निमिसन
जनम-अवधि जे विद्या देलनि
देनहुं नहिं किछु ककरॊ ककरो लेलनिरहथि विज्ञ भवनाथ लॊकमेलोकमे
विदित अयाची मिश्र मगर
जनिका जीति सकथि नहि वाणी
भेल तनिक तेँ तें गाम नवाणी
बच्चा झा सन सर्व विजेता
तत्व-प्रणेता के दोसर?
मिथिला सन इतिहास ककर?
लक्ष्मीनाथ गॊसाँइ गोसाँइ मनस्वी
सिद्ध पुरुष अत्यन्त तपस्वी
जाथि खराम पहिरने धारक
केहनॊ केहनो दुस्तर धारा पर
मिथिला सन इतिहास ककर?
उपाध्याय श्रीमदन सिद्ध जन
छला विदित मङरौनिक अभिजन
जनिक सुखाइत छलनि व्यॊम व्योम मे
आश्रयहीन सदा अम्बर
मिथिला सन इतिहास ककर?
गद्य काव्य अछि जते आधुनिक
सबसँ बढ़ि प्राचीन मैथिलीक
के न जनै अछि ज्यॊतिरीश्वरकज्योतिरीश्वरक
वर्ण-समन्वित रत्नाकर
मिथिला सन इतिहास ककर?
शंकर दत्त गरौल-निवासी
हारल जखन मल्ल जन राशी
महाव्याघ्र केँ कें चीरि फेकलनि
नयपालेसक आज्ञा पर
मिथिला सन इतिहास ककर?
पहलमान बोतल बलशाली
रहथि नवादा गामक लाली
पकड़ि बाघ केँ कें पटकि मारलनि
अकस्मात नहि संशय – डर
मिथिला सन इतिहास ककर?
गॊनू गोनू झा सन धूर्त शिरॊमणिशिरोमणि
रहथि एतय नहिँ के जनैत छनि?
प्रत्युत्पन्न मतित्वक गाथा
Delete, Mover, Protect, Reupload, Uploader, प्रबंधक
34,955
edits