भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
  रंगोली
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार
Roman

श्री रामचन्द्र जन्म लिये चैत सुदि नौमी / बुन्देली

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

   ♦   रचनाकार: अज्ञात

श्री रामचन्द्र जन्म लिये चैत सुदि नौमी।
दाई जो झगड़े नरा की छिनाई
कौशिल्या जी की साड़ी लैहों, सोर की उठाई। श्री...
नाइन झगड़े नगर की बुलाई
कौशिल्या जी को हार लैहों, महल की पुताई। श्री...
पंडित जो झगड़ें वेद की पढ़ाई
दशरथ जी को घोड़ा लैहों वेद की पढ़ाई। श्री...
ननदी जी झगड़े आँख की अंजाई
तीन लोक राज लैहों सांतिया धराई। श्री...