भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
  काव्य मोती
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

सदस्य:Lalit Kumar

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
ललित कुमार: संस्थापक, कविता कोश
ईमेल: Lalit emailid.png

नमस्कार!

मेरा नाम ललित कुमार है और मैं नई दिल्ली, भारत में रहता हूँ।

हिन्दी काव्य के इस विशाल कविता कोश को मैनें 06 जुलाई 2006 को स्थापित किया था। इस कोश की पीछे मेरा उद्देश्य हिन्दी साहित्य-प्रेमियों के लिये इंटरनैट पर एक ऐसा मंच बनाना था जहाँ आप किसी भी हिन्दी कविता को पढ़ सकें। हिन्दी काव्य जगत की विशालता को देखते हुए हम कह सकते हैं कि इस उद्देश्य को पूरा करना बहुत ही कठिन है -परंतु हम जितनी हो सके उतनी कविताएँ तो यहाँ संकलित कर ही सकते हैं।


इस कोश की शुरुआत करने से पहले मैनें इंटरनैट पर बहुत खोज-बीन की और पाया कि बहुत-सा हिन्दी काव्य इंटरनैट पर उपलब्ध था लेकिन कुछ रचनाएँ आपको एक जगह मिलेंगी और कुछ रचनाएँ दूसरी जगह... कोई एक ऐसा स्थान नहीं था जहाँ बडी संख्या में कविताओं का संकलन किया गया हो। इस कारण बहुत-से लोग अक्सर ऐसी कविताओं तक भी नहीं पहुँच पाते थे जो इंटरनैट पर पहले से ही उपलब्ध थी! इसी समस्या का निवारण हम कविताओं को इस कविता कोश के मंच पर इकठ्ठा कर के कर सकते हैं।


आरम्भ में कविता कोश का उद्देश्य इंटरनैट पर इधर-उधर बिखरी पड़ी पहले से मौज़ूद रचनाओं को एक स्थान पर संकलित करना था। जल्द ही कविता कोश इंटरनैट पर हिन्दी काव्य के प्रचार-प्रसार का एक सशक्त माध्यम बनकर उभरने लगा और इसके अस्तित्व को लेखक, प्रकाशक और पाठक सभी की सराहना मिलने लगी। यहाँ यह बात स्पष्ट कर देना उचित होगा कि कविता कोश एक मुक्त कोश है -लेकिन इसका अस्तित्व किसी भी रचनाकार या प्रकाशक को आर्थिक हानि नहीं पहुँचाता। कविता कोश का कॉपीराइट से सम्बंधित दृष्टिकोण जानने के लिये यहाँ क्लिक करें


कविता कोश का संचालन कविता कोश टीम नामक एक समूह करता है। इस समूह के सदस्यों के पास कोश से संबंधित सभी अधिकार हैं।


आप मुझसे ईमेल द्वारा सम्पर्क कर सकते हैं: Lalit emailid.png


आपका दोस्त

ललित कुमार
<shtml version="2" keyname="lalit-key" hash="767b971be042d23d249f86cf35b0047df7a47c0686c3cc700b82620151a6c6e8"><a rel="me" href="https://plus.google.com/u/0/112489253235973279691/posts" target="_blank">See my Google Profile</a></shtml>