भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

सम्वाद / स्वरांगी साने

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

बहुत दिनों बाद तुम्हें फ़ोन किया
तुम न मेरी आवाज़ पहचान पाए
न मेरा नाम ही
पूछ बैठे कौन
इस प्रश्न ने मुझे अब तक उलझा रखा है
मैंने बन्द कर दिया है
तुमसे अपना वार्तालाप
अब शुरू हुआ है
मेरा ख़ुद से सम्वाद