भारत की संस्कृति के लिए... भाषा की उन्नति के लिए... साहित्य के प्रसार के लिए
लोक संगीत
कविता कोश विशेष क्यों है?
कविता कोश परिवार

सुशील राकेश / परिचय

Kavita Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

नाम : सुशील राकेश
मूलनाम : श्री सुशील कुमार शर्मा
आत्मज : पं. इन्द्र दत्त शर्मा
माता : श्रीमती ओम्‌वती देवी
जन्म : ७ अक्टूबर १९४८, इलाहाबाद
धर्मपत्नी : श्रीमती सरोजनी शर्मा
सुपुत्र : श्री विभांशु शर्मा, श्री दिवांग शर्मा
सुपुत्री : कु० गीतिका शर्मा
शिक्षा : इलाहाबाद विश्वविद्यालय से 'एम.ए.' (अर्थशास्त्र) हिंदी साहित्य
सम्मेलन, प्रयाग से 'साहित्यरत्न'

विशेष संदर्भ :

१. हिंदी साहित्य के महाकवि पं. सुमित्रा नंदन पंत, उपन्यासकार पं. इलाचंद्र जोशी तथा श्रीमती महादेवी वर्मा, डॉ जगदीश गुप्त, श्री लक्ष्मी कांत वर्मा, श्री नरेश मेहता के सानिध्य में रहकर साहित्य सृजन।
२. विगत चालीस वर्षों से साहित्य की अनेक विधाओं जैसे कविता, कहानी, निबंध, समीक्षा, आलेख, साक्षात्कार, लघुकथाओं आदि में अपनी एक विशिष्ट पहचान बनाई।

पुरस्कार / सम्मान :
१. लखनऊ से प्रकाशित दैनिक अखबार 'स्वतंत्र भारत' द्वारा १९७२ में कहानी के लिए विशिष्ट पुरस्कार तथा सम्मान प्रदान किया गया।
२. उत्तर प्रदेश हिंदी साहित्य सम्मेलन, लखनऊ द्वारा आयोजित 'स्वर्ण जयंती अधिवेशन' १९८७ में विशिष्ट हिंदी साहित्य की रचनाधर्मिता के लिए 'वाण भट्‌ट रजत पदक' में सम्मानित।
३. हिंदी साहित्य सम्मेलन, प्रयाग के ४५ वें वार्षिक अधिवेशन, कानपुर (१९८६) में राष्ट्रभाषा हिंदी की सेवा के लिए प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया।
४. दिल्ली से प्रकाशित साप्ताहिक अखबार 'संडे आबजर्बर' द्वारा 'मेंहदी घाट' को १९९० की महत्त्वपूर्ण कृति घोषित।
५. मानस संगम, कानपुर द्वारा काव्य संग्रह 'मेंहदी घाट' का विमोचन तथा सम्मान प्रदान किया गया।
६. चौथे दशक की पूर्ति पर साहित्य पत्रिका 'उदाहरण' का संपूर्ण कविता विशेषांक प्रकाशित कर संपादक द्वारा 'साहित्य श्री' की मानद उपाधि से सम्मानित।
७. १४.०९.२००१ को इलाहाबाद में 'हिंदी दिवस' के अवसर पर हिंदी साहित्य सम्मेलन, प्रयाग के द्वारा 'साहित्य महोपाध्याय' की मानद उपाधि से सम्मानित किया गया।
८. १६.०९.२००१ को अंतर्राष्ट्रीय हिंदी साहित्य संस्थान, इलाहाबाद द्वारा 'हिंदी भूषण' उपाधि से सम्मानित।
९. १९.१०.२००१ को पंडित शिव दुलारे लाल स्मृति सम्मान समिति, कन्नौज द्वारा 'कन्नौज रत्न' की उपाधि से नवाजा गया।
१०. २८.०४.२००४ को भारतीय साहित्य सुधा संस्थान, इलाहाबाद द्वारा 'भारतीय साहित्य सुधा रत्न' मानद उपाधि अलंकरण २००२ में प्रदान किया गया।
११. अक्टूबर २००५ में मध्य प्रदेश राज्य हिंदी साहित्य सम्मेलन, सतना (म.प्र.) द्वारा 'साहित्य सागर' मानद उपाधि अलंकरण प्रदान किया गया।
१२. जनवरी २००८ में मित्रकुल, प्रयाग द्वारा 'साहित्यामृत-सम्मान' से अभिषिक्त किया गया।
१३. २००८ में अखिल भारतीय हिंदी सेवी संस्थान, इलाहाबाद द्वारा कविता संग्रह 'शून्यकाल' को 'कृष्णा शाही अंजली पुरस्कार'।


विशेष उल्लेख :

१. समाचार पत्र : राष्ट्रीय सहारा, दैनिक 'भारत', अमृत प्रभात, जनसत्ता, नवोदित स्वर, नव भारत टाइम्स, कन्नौज एक्सप्रेस, संडे मेल, संडे आबजर्बर, आज, दैनिक विश्वमित्र, अमर उजाला, क्रांति संदेश, दैनिक भास्कर, स्वतंत्र भारत आदि में कविताएं, कहानियाँ, संस्मरण, निबंध आदि निरंतर प्रकाशित।
२. पत्रिकाएं : धर्मयुग, कादम्बिनी, परिवेश, हेमेशिया टाइम्स, प्रतिमा, ऋचा, प्रतिपक्ष, चंद्रिका, नवोदय, संत, उदाहरण, प्रज्ञा, साक्षात्कार, अभिज्ञानम्‌, सांध्य टाइम्स, राष्ट्रभाषा, युवा, उत्तर प्रदेश, अवकाश, आइना, महोदय, समवेत, समग्र चेतना, नवनीत आदि बहुत सी लघु पत्रिकाओं में कविताएं तथा कहानियाँ, साक्षात्कार निरंतर प्रकाशित।
३. शोध पत्रिका : 'हिंदुस्तानी' में पं. इलाचन्द्र जोशी पर विशेष शोध आलेख प्रकाशित।
४. राष्ट्रीय समाचार पत्र : लखनऊ से प्रकाशित 'नव भारत टाइम्स' के संवाददाता १९८८ से १९९३ तक कार्य करके विशिष्टता प्राप्त की।

अन्य :
. १९७१ में इलाहाबाद से प्रकाशित दैनिक 'भारत' अखबार के संपादकीय विभाग में कार्यरत रहे।
. इलाहाबाद से प्रकाशित मासिक पत्रिका 'अवकाश' के १९७२ में प्रथम संपादक।
. १९७४ में इलाहाबाद से प्रकाशित 'नई कहानियाँ' पत्रिका के स्तंभ लेखक तथा उपसंपादक के पद पर कार्यरत रहे।
. १९७८ एवं १९८७ में वार्षिक शोध पत्रिका 'कादम्बरी' के संपादक।
. १९८५ में जेसीज क्लब द्वारा प्रकाशित वार्षिक पत्रिका 'सुगंधा' के संपादक।
. १९८० से कन्नौज से प्रकाशित साहित्यिक पत्रिका 'दशकारंभ' के निरंतर संपादक।
. आकाशवाणी लखनऊ से प्रसारित चर्चाओं में अनेक लेख प्रसारित।


५. राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय संगोष्ठियों में सहभागिता :-
. उत्तर प्रदेश हिंदी साहित्य सम्मेलन, लखनऊ।
. हिंदी साहित्य सम्मेलन, प्रयाग।
. विवेकानंद भारत परिक्रमा समिति, कन्नौज।
. सम्राट हर्षवर्धन चतुर्दश शताब्दी समारोह समिति, कन्नौज।
. मानव मंच, फर्रुखाबाद।
. भारत जन ज्ञान-विज्ञान जत्था, फर्रुखाबाद।
. ग्रामीण मानव विकास संस्थान, कन्नौज।
. सम्राट हर्षवर्धन दान महोत्सव यात्रा समिति, इलाहाबाद।
. पं. सुमित्रा नंदन पंत जन्म शताब्दी समारोह संगोष्ठी, इलाहाबाद।
. पं. इलाचंद्र जोशी जन्म शताब्दी समारोह संगोष्ठी, इलाहाबाद।
. पद्‌म भूषण डॉ. राम कुमार वर्मा जन्म शताब्दी समारोह संगोष्ठी, प्रयाग।
. पं. इलाचंद्र जोशी हीरक जयंती व्याखयान माला (१९७७) कन्नौज।
. अमृत महोत्सव (१९७७) कन्नौज।
. लघु पत्रिका एवं पत्र प्रदर्शनी (१९८०), कन्नौज।
. कन्नौजी बोली समारोह (१९८१) कन्नौज।
. स्वर्ण जयंती अधिवेशन (१९८७) उत्तर प्रदेश हिंदी साहित्य सम्मेलन, लखनऊ द्वारा कन्नौज में भाग लिया।

प्रकाशित कृतियाँ :
१. क्रांति (संपादित पुस्तक)
२. बच्चे समुद्र हैं (कविता संग्रह)
३. मेंहदी घाट (कविता संग्रह)
४. गंगा अपने पास (कविता संग्रह)
५. शून्य काल (कविता संग्रह)
६. मेरे शहर की मुद्रा (कविता संग्रह)
७. पहाड़ों से प्रयाग तक (पं. इलाचंद्र जोशी का वृहद साक्षात्कार)

कहानियाँ :

१. प्रारब्ध
२. स्टाप
३. दांव
४. सोया हुआ नगर
५. मैं बडी हो गयी हूँ
६. जुडता हुआ आदमी
७. मामूली लोग
८. तिवारी दद्‌दा
९. कल यह वंशी
१०. यहां सुबह होती है


संस्मरण तथा आलेख : पं. सुमित्रा नंदन पंत, पं. इलाचद्र जोशी, चन्द्रधर शर्मा 'गुलेरी', डॉ. धर्मवीर भारती, डॉ. प्रताप नारायण टंडन,शमशेर बहादुर सिंह, जगदीश गुप्त, नरेश मेहता, श्रीमती महादेवी वर्मा आदि पर विशेष शोध आलेख तथा संस्मरण प्रकाशित।

उल्लेखनीय कार्य :
१.१९७० में इलाहाबाद की साहित्यिक संस्था 'स्वप्निल' के महामंत्री के रूप में नगर में अनगिनत साहित्यिक कार्यक्रमों का आयोजन।
२.१९७० में इलाहाबाद में लार्ड बेडेन पावेल गु्रप के महामंत्री के रूप में अनेक सामाजिक कार्य संपन्न कराये।
३.१९७२ में इलाहाबाद में 'सर्वभाषीय कवि सम्मेलन' के संयोजक।
४.१९७७ में पं. इलाचंद्र जोशी हीरक जयंती व्याखयान माला के संयोजक रहे।
५.१९७७ में कन्नौज में 'अमृत महोत्सव' के संयोजक।
६.१९७८ और १९८० में कन्नौज महोत्सव के सक्रिय सदस्य रहे।
७.१९८० में लघुपत्र एवं पत्रिका प्रदर्शनी के आयोजक रहे।
८.१९८१ में प्रगतिशील लेख संघ, कन्नौज के महामंत्री पद पर रहकर अनेक गोष्ठियों का आयोजन किया।
९.१९८१ में प्रगतिशील लेखक संघ, कन्नौज के महामंत्री रहे।
१०.१९८६ से निरंतर प्रगतिशील लेखक संघ, कन्नौज के अध्यक्ष।
११.१९८७ में उत्तर प्रदेश हिंदी साहित्य सम्मेलन, लखनऊ के स्वर्ण जयंती अधिवेशन के महामंत्री रहकर कार्यक्रम का आयोजन किया जिसमें देश-विदेश के चार सौ से अधिक साहित्यकारों ने भाग लेकर महत्वपूर्ण निर्णय लिये।
१२.१७ सितंबर १९८७ को इलाहाबाद से कन्नौज महीयशी महादेवी वर्मा का अस्थि कलश लाकर ससस्मान नगरवासियों के बीच गंगा में विसर्जित किया।
१३.१७ सितंबर १९८८ से हिंदी की प्रतिष्ठा के लिए कन्नौज व फर्रुखाबाद जनपदों में एक सौ साठ कि.मी. की हिंदी मानक पदयात्रा करके गाँव-गाँव हिंदी के प्रचार प्रसार के लिए संगोष्ठियां की।
१४.१९८८ में कन्नौज से फर्रुखाबाद(महादेवी वर्मा के जन्म स्थली तक) 'हिंदी ज्योति' के प्रबंधक के रूप में कार्य किया जो श्री आशुतोष मिश्र 'मधुकर' के नेतृत्व में पच्चीस युवकों द्वारा दौड कर साठ किलोमीटर ले जायी गई।
१५.१९८६ में महादेवी कलश यात्रा के प्रबंधक रहे।
१६.१९९० में सम्राट हर्ष वर्धन चतुर्दश शताब्दी समारोह, कन्नौज के महामंत्री रहे जिसमें देश-विदेश के लगभग १५० इतिहासकारों ने भाग लिया।
१७.१९९० में 'मानव मंच' फर्रुखाबाद के महामंत्री रहे।
१८.उत्तर प्रदेश हिंदी साहित्य सम्मेन, लखनऊ के आजीवन सदस्य हैं।
१९.१९८६ से १९९४ तक उत्तर प्रदेश हिंदी साहित्य सम्मेलन, कन्नौज समिति के प्रधानमंत्री के रूप में रहकर अनेक संगोष्ठीयां आयोजित कीं।
२०.१९९२ में विवेकानंद भारत परिक्रमा समिति के संयोजक थे।
२१.१९९२ में फर्रुखाबाद के 'भारत जन ज्ञान विज्ञान जत्था-९२' के अध्यक्ष रहे।
२२.१९९६ में संगीत महोत्सव के संयोजक रहे।
२३.१९९२-९४ तक उत्तर प्रदेश हिंदी साहित्य सम्मेलन, लखनऊ के प्रचार मंत्री रहे।
२४.१९९३ से निरंतर राष्ट्रभाषा हिंदी परिषद, कन्नौज के महामंत्री हैं।
२५.१९९८ में पं. सुन्दर लाल मेमोरियल महाविद्यालय रजत जयंती वर्ष समारोह समिति, कन्नौज के संयोजक थे।
२६.१९९९ में ग्रामीण मानव विकास संस्थान, कन्नौज के उपाध्यक्ष रहे और अध्यक्ष हैं।
२७.२००० में पं. सुमित्रा नंदन पंत जन्म शताब्दी समारोह समिति, कन्नौज के संचालक रहे।
२८.२००२ से सम्राट हर्षवर्धन दान महोत्सव यात्रा समिति, कन्नौज के महामंत्री हैं।
२९.२००२ में पं. इलाचंद्र जोशी जन्म शताब्दी समारोह समिति कन्नौज के संयोजक रहे।
३०.२००५ में पद्‌म भूषण डॉ. रामकुमार वर्मा जन्म शताब्दी समारोह समिति, कन्नौज के संयोजक।


विशेष : साहित्यिक पत्रिका 'दशकारंभ' के अवैतनिक संपादक।
संप्रति : प्राध्यापक, अर्थशास्त्र विभाग, पं. सुन्दर लाल मेमोरियल स्नाकोत्तर महाविद्यालय, कन्नौज (छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय से संबद्ध)

आवास : श्री सुशील राकेश, ५२, बगिया फज़ल इमाम, कन्नौज (उ.प्र.)
मोबाइल : 09721754746